Shodhmanthan Vol. IX 2018 No.3

  1. खाद्यान समस्या : कारण एवं निवारण – डॉ. अनूप सांगवान

  2. बाजार का समाजशास्त्र : बदलते हुए ग्रामीण प्रतिमान – हरिनंदन कुशवाहा , डॉ. विनीता लाल

  3. किशोरों की बुद्धि लब्धि एवं उनके लिंग के मध्य सम्बन्ध – डॉ श्वेता शर्मा

  4. आर्थिक सुधर में भारतीय बैंकिंग का योगदान – डॉ. मो. सनावउर अली

  5. संघीय व्यवस्था में राज्यपालो भूमिका : विधिक वैधानिक पहलुओं का अध्ययन (उत्तर प्रदेश के विशेष संदर्भ में)- डॉ. आशुतोष पाण्डेय

  6. चित्रकार सतवंत सिंह के रेखाचित्रों का अद्भुत संसार – डॉ. कविता सिंह

  7. लोकतंत्र एवं सामाजिक सुधार : चुनौतियां एवं समस्या – इम्तियाज़ अहमद

  8. जयप्रकाश नारायण – समाजवाद से सर्वोदिया की ओर – डॉ. किशोर , डॉ. अनिल कुमार

  9. महाविद्यालय स्तर पर अधययननरत महिला कबड्डी खिलाड़िओ के शरीरिक एवं शरीर क्रियात्मक चारो का प्रभाव – डॉ. जीतेन्द्र कुमार बालियान

  10. धूमिल के काव्य में सामाजिक चेतना – डॉ. उपासना

  11. जल प्रदुषण पर मानव जीवन पर प्रभाव एवं नियंत्रण – डॉ. आसमा परवीन

  12. जनता पार्टी का गठन एवं चुनाव एवं कर्पूर ठाकुर – डॉ. हरिमोहन

  13. भारत चीन सम्बन्ध (वर्तमान सम्बन्ध में) – कु. सोनिया

  14. प्रव्रजन एवं जीवन पद्धति ‘ निरंतरता एवं जीवन के विशेष सम्बन्ध में – डॉ श्वेता लोहानी

  15. भारत में समाचार पत्रों का इतिहास, विकास, महत्त्व – डॉ. सीमा देवी , कुलदीप

  16. भारत में समरसता : नरेंद्र मोदी- डॉ. शिवली अग्रवाल

  17. वार्षिक ऋण योजना में राजस्थान के कृषि उत्पादन मे कृषि ऋणों का प्रभाव – श्रवण कुमार

  18. कल्याणकारी अर्थवयवस्था में डॉ. भीमराव आंबेडकर के विचरो एवं अधिकारों का एक विश्लेषण –डॉ. सीमा देवी

  19. भारत में शिक्षा : एक समाजशास्त्रीय विश्लेषण – सुनील कुमार

  20. राजनैतिक दल एवं युवा संगठन : मुद्दे एवं पारस्परिक सम्बन्ध – शालिनी यादव

  21. राष्ट्रवाद पर गांधीजी के विचारो का अवलोकन – कुमारी गुलशन

  22. डॉ. लोहिया एवं डॉ. आंबेडकर की द्रष्टि में भारत विभाजन – डॉ. मनोज कुमार

  23. वैदिक आवर आधुनिक समाज में पुरुषार्थ की अवधारणा- कल्पना बेहेरा

  24. तंत्र योग में निहित विभिन ध्यान पद्धितियों में नाद- अंकित शर्मा