Shodhmanthan: Vol VII 2016 No.2

  1. नारी अधिकारों के प्रति जागरूकता एवं गांधीजी के विचार – डॉ आरती शर्मा

  2. ब्रिटिशकल में वैज्ञानिक उपकरणों की सहायता से कलाकार के अभ्यास एवं प्रदर्शन पर प्रभाव – डॉ पुष्पा चौहान

  3. स्वतंत्रता आंदोलन में संभल एवं अमरोहा का योगदान – डॉ रीतू त्यागी

  4. टिहरी रियायत में जनता पर लगने वाले टैक्स (कर) – डॉ रजनी गोसाई

  5. संगीत और मनोविज्ञान – किरण शर्मा

  6. पब्लिक स्कूलों में कार्यरत शिक्षिकाओं की समस्याएं एवं मीरुत क्षेत्र के विशेष सन्दर्भ में – डॉ अंजुला राजवंशी

  7. हिन्दू उत्तराधिकार अधिनियम, १९५६ एवं सम्बद्ध संशोधनों का एक समाजशास्त्रीय विश्लेषण – डॉ सुनीता

  8. अमृतलाल नगर के उपन्यास शैत्य की पृष्ठभूमि और मनोविज्ञानिक विश्लेषण – मिनाक्षी देवी

  9. अकबर के शासन कल में शिक्षा एवं साहित्य का विकास – डॉ समन जहरा ज़ैदी

  10. कामकाजी महिकलाओ में राजनितिक जागरूकता एवं राजनितिक सहभागिता – डॉ वी पी राकेश, डॉ विनीता गुप्ता

  11. वर्तमान परिप्रेक्ष्य में चिकित्सा संगठन की भूमिका का अध्ययन – डॉ सरिता पल

  12. उच्चतर माध्यमिक विद्यालयों में अध्ययनरत विद्यार्थियों के धार्मिक मूल्य पैर लिंग एवं शाला के प्रकार के अंत:क्रियात्मक प्रभाव का अध्ययन – डॉ (श्रीमती) तृषा शर्मा

  13. कला और कलाकार के सम्बंद का विवेचनात्मक अध्ययन – डॉ रीता सिंह

  14. महाभारत के तृतीया पर्व ‘वन पर्व’ में काव्य संगीत एवं वास्तुकला की विवेचना – डॉ रीना

  15. भारत की वर्तमान परिस्तिथियों में गाँधीवादी दर्शन – डॉ रजनी दुबे

  16. मुंशी प्रेमचंद के उपन्यास रंगभूमि में आर्थिक परिपेक्ष्य – डॉ शीला चंदेल

  17. छायावादी कवी पं मुकुटधर पांडेय जी के काव्य में ह्रदय एवं वाणी के अनुबंद – डॉ बृजेन्द्र पांडेय

  18. स्त्रीवादी अवधारणा – शगुन सिक्का

  19. भारतीय तंत्र में भ्रष्टाचार – डॉ शिवली अग्रवाल 

  20. दमन शोषण व् उत्पीड़न से अधीनस्थ समूह की मुक्ति बाबा साहब का मूल राष्ट्रवाद – चित्रेश कुमार बंजारे

  21. डॉ मनमोहन सहगल के उपन्यास ‘ गुरु लाधो रे’ में सामाजिकता और ऐतिहासिकता – गुरप्रीत कौर