Shodhmanthan Vol. VII 2016 No.1

१. कृषि व्यवसायीकरण  का कृषिऔधिक विकास पर प्रभाव  : शाहजहाँपुर जनपद ‘उत्तर प्रदेश ‘ के विशेष सन्दर्भ में- डॉ. नरेश कुमार


२. नवगीत : मूल्यांकन के प्रतिमान  – डॉ. देवेंद्र कुमार 


३. पंचायतीराज आरक्षण आवर दलितों की सामाजिक  स्थिति : एक समाजशास्त्रीय अध्यन – डॉ. ए. टी. शिंदे


४. सामान्यीकरण – अशोनी कुमार , मिथलेश 


५. दलितों के सामाजिक एवं आर्थिक विकास में माननीय कांशीराम का योगदान – दीलिप सिंह, हुकुम सिंह 


६. नेहरू शैशिक विचारधारा की वर्तमान परिस्तिथियो  में आवश्यकता – भूपेंद्र सिंह डॉ. रविकांत सरल 


७. शिवनारायणी / सम- सामयिक एवं परवर्ती संत काव्य एक अध्यन – डॉ. शिल्पी श्रीवास्तव


८. भारतीय राजनीति में दलितों की सहभागिता – डॉ. भपेंद्र प्रताप सिंह


९. आधुनिक भारत में महिलाओ के प्रति अपराध : एक समीक्षा – डॉ. सुनीता रानी


१०. कन्या भ्रूण हत्या : एक जघन्य अपराध में जकड़ता समाज – डॉ. विनोद कुमार


११. संस्कृति वैभव संजोय राजस्थान प्रदेश की किशनगढ़ शैली – डॉ. रीता सिंह


१२. भारतीय दर्शन में सिख धर्म – शगुन सिक्का 


१३. भूमंडलीयकरण के प्रभाव का समाजशाष्त्रीय विश्लेषण : अनुसूचित जाती – जनजातियों के सन्दर्भ में – डॉ. दत्तात्रय पालीवाल


१४.रजिस्थानी चित्रकला को समृद्ध करती मेवाड़ शैली – ख्याति सिंह


१५. प्रबंधकीय विचारधारा – शकुंतला


१६. पुस्तकालय  सुचना विज्ञानं के स्त्रोत – ज्ञान प्रकाश